सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

कवि गीतकार गोपालदास नीरज का निधन

 पद्म विभूषण कवि गोपालदास नीरज का आज गुरुवार को लंबी बीमारी के बाद 92 की उम्र में AIIMS दिल्ली में निधन हो गया| वे लंबे समय से सीने में संक्रमण की बीमारी से जूझ रहे थे उनको आगरा से दिल्ली लाया गया जहां पर उन्हें दिल्ली के एम्स अस्पताल में आखरी सांस ली|



        उनका जन्म 4 जनवरी 1925 को उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में पुरवली गांव में हुआ था| उन्हें फिल्मों में गीत लेखन के लिए तीन बार फिल्म फेयर अवार्ड से नवाजा गया साथ ही साथ उन्हें सन 1991 में पद्मश्री और सन 2007 में पद्म भूषण भी दिया गया था| वह अपने समय के सर्वश्रेष्ठ गीतकारों में से एक थे उनके द्वारा लिखे गए बहुत से गाने उस समय के सुपरहिट गाने थे जिनमें से कुछ निम्न है-

ए भाई जरा देखकर चलो
कारवां गुजर गया गुबार देखते रहे

उनके निधन की खबर सुनकर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने Twitter पर अपनी संवेदना व्यक्त की



टिप्पणियाँ

Popular Posts

भगवान गणेशजी के रूप का क्या है मतलब WHO IS BHAGWAN GANESH JI, How to complete work without problem

कौन है भगवान गणेशजी ?वैसे तो आप सब भगवन गणेश जी के बारे में जानते ही है की भगवन गणेश कौन है परन्तु फिर भी हम बताते है की   भगवान गणेश जी विघ्नहर्ता देव है जो की हमारे किसी भी काम को निर्विघ्न करने में हमारी सहायता करते है बिना भगवन गणेश के सुमिरन के कोई भी काम पूरा नहीं होता है  और  अगर होता भी  है तो वो विना विघ्न के पूरा नहीं होता है मतलब उसमे कोई न कोई विघ्न जरूर होता है वैसे अगर बात करे की भगवान गणेश किन के पुत्र है तो सबसे पहले भगवान शिव का नाम आता है परन्तु एक सच्चाई यह भी है की  गणेश जी महाराज भगवान शिव के वास्तविक पुत्र न होकर उनके प्रतीक पुत्र है जिनका अवतरण  माँ पार्वती के उबटन से हुआ है| भगवान् शिव को माँ पार्वती के पास ना जाने देने के कारण भगवान् शिव ने गणेश जी मस्तक त्रिशूल से काट दिया था फिर सच्चाई पता चलने के पश्चात उन्होंने गणेश जी महाराज को एक हाथी का मस्तक लगाया था जिसकी वजह से उनका स्वरुप इस प्रकार का है की उनका मस्तक तो हाथी का है परन्तु बाकी शरीर मनुष्य का है | भगवान गणेश जी का नाम पांच देवो में लिया जाता है जो की ब्रम्हाजी, विष्णु जी , शंकर जी , माँ दुर्गा  और गण…

अपने क्रोध को कैसे शांत करे आसान उपाय How to Control Frustration and Anger

परन्तु हमारे मन में एक बात जो सबसे पहले आती है वो है की हम अपने क्रोध को कैसे शांत करे क्योकि क्रोध आने पर तो हम किसी की सुनते नहीं तो फिर कैसे हम क्रोध को शांत करे जिससे की हमारे काम ख़राब ना हो, तो सबसे पहला काम तो आप यह कीजिये की जब भी आपको गुस्सा आये तो आप सबसे पहले लम्बी साँस लीजिये और आँखे बंद कर लीजिये और दो तीन बार आराम से साँस लेना  स्टार्ट कर दीजिये, इससे आपको उस समय आराम मिलेगा और एक उपाय जो आप को करना है वो है की रात के समय जब भी आप सोने जाये अपने सिरहाने यानी सर की तरफ एक पानी से भरा हुआ पात्र यानी जग आदि भरकर रख लीजिये और सुबह उठकर उस पानी को घर से बहार फेंक दीजिये ध्यान रखे उस पानी को पीना नहीं है, और देखते ही देखते आपका गुस्सा गायब हो जायेगा |   यह एक अपनाया हुआ तरीका है एक बार जरूर करके देखे आपको निश्चित ही लाभ मिलेगा |  Video Here

कहाँ चलती है राम नाम की मुद्रा | Ram Mudra/ Currency of Lord RAM

 मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम का नाम भारत की सभ्यता में रचा-बसा हुआ है। यहां अक्सर राम राज्य की बात भी होती है। भगवान राम और उनका जन्म स्थान अयोध्या है ।औऱ  यहां का राजनीति का भी विषय है। यहां की अधिसंख्य जनता भगवान राम को अराध्य मानती है ।और उनके दिलों में भगवान राम निवास करते हैं। भारतीय मुद्रा यानी रुपयों पर अशोक स्तंभ और आजादी की लड़ाई के महानायक महात्मा गांधी को तो जगह मिली, लेकिन भगवान इस रेस में पीछे रह गए। भारत में भले ही भगवान राम को नोटों पर जगह न मिली हो,। लेकिन दुनिया में एक देश ऐसा भी है जहां राम नाम की मुद्रा चलती है।





राम राज्य की बात तो भारत में होती है, । लेकिन राम नाम की मुद्रा चलती है ,यूरोपीय देश नीदरलैंड्स में। इस मुद्रा को महर्षि महेश योगी की संस्था 'द ग्लोबल कंट्री ऑफ वर्ल्ड पीस' ने गत 2002 में जारी किया था। यह एक नॉन प्रॉफिट संस्था है ।और मेडिटेशन, शिक्षा व दुनियाभर के शहरों में शांति के प्रसार के लिए काम करती है। इसी संस्था ने 'राम' नाम की मुद्रा जारी की थी । और इसके नेता थे न्यूरोलॉजिस्ट टॉनी नाडर है ।साल 2002 में जीसीडब्ल्यूपी ने अमेरिका के आईओ…

पती पत्नी के झगड़े कैसे दूर करे How to Solve Husband Wife Dispute

आज की इस भागदौड भरी जिन्दगी में हमे किसी के लिए भी टाइम नहीं मिलता है यहाँ तक की हमे अपनों के  लिए भी टाइम नहीं मिलता है , जिसकी वजह से हम अपनों से दूर होते जा रहे है बहुत दूर.......  पर करे तो क्या करे हमे दौड़ना ही है क्योकि नहीं दौड़ेंगे तो हम पीछे रह जायेंगे |  पर क्या आपको पता है इस सब की वजह से हमारे रिश्ते कितने ख़राब हो रहे है क्योंकि  हमारे पास टाइम ही नहीं है किसी से बात करने के लिए, किसी से  मिलने के लिए तो वो तो हमसे दूर होंगे ही पर इन सब में जो एक रिस्ता जो सबसे ज्यादा ख़राब हो रहा है वह है हस्बैंड वाइफ का क्योकि उन  दोनों के पास बात करने के लिए बक्त ही नहीं है जिसकी बजह से पति पत्नी में रोजाना झगडे होते है और उनकी जिंदगी ख़राब हो जाती है और उनके बच्चे भी परेशांन होते है | 
हमारे पास  इस भागदौड़ भरी जिंदगी को कम करने का तो कोई  तरीका नहीं है पर इतना उपाय जरूर है की पति पत्नी के बीच  होने वाले इन झगड़ो को दूर या कम किया किया जा सके तो हम आपको आज वो ही एक सरल सा उपाय  बता रहे है जिसको अपनाकर आप अपने रिश्ते सही कर सकते है पति पत्नी के रिश्ते सही करने के लिए सबसे  पहले आपको सारस पक्ष…

ये सामान्य आदतें बदल सकती हैं आपकी तकदीर l Solution Guruji

तंत्र व ज्योतिष शास्त्र के अंतर्गत अनेक ऐसे छोटे व आसान उपाय बताए गए हैं, जिन्हें करने से जीवन की हर परेशानी दूर हो सकती है। बहुत से लोग इन उपायों के बारे में या तो जानते नहीं है और यदि जानते हैं तो इन पर विश्वास नहीं करते। इन उपायों पर विश्वास करने के लिए जरूरी है स्वयं पर विश्वास करना।

तंत्र शास्त्र व ज्योतिष के अनुसार, यदि ये उपाय सच्चे मन से किए जाएं तो जल्दी ही इनका सकारात्मक प्रभाव देखा जा सकता है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही छोटे और अचूक उपाय बता रहे हैं, जिन्हें सच्चे मन से करने से आपकी जिंदगी की हर परेशानी दूर हो सकती है। ये उपाय इस प्रकार हैं-

1. रोज सुबह उठकर अपनी हथेलियां देखें

रोज सुबह जब आप उठें तो सबसे पहले दोनों हाथों की हथेलियों को कुछ क्षण देखकर चेहरे पर तीन चार बार फेरे। धर्म ग्रंथों के अनुसार, हथेली के ऊपरी भाग में मां लक्ष्मी, बीच में मां सरस्वती व नीचे के भाग (मणि बंध) में भगवान विष्णु का स्थान होता है। इसलिए रोज सुबह उठते ही अपनी हथेली देखने से भाग्य चमक उठता है।


2. पहली रोटी गाय को दें

भोजन के लिए बनाई जा रही रोटी में से पहली रोटी गाय को दें। धर्म ग्रंथों के अनुसार,…